Menu

 

अंतरिक्ष में भारत की तेज धमक की आ रही है आहट

गर्मी के 53 से ज्‍यादा मौसम बीते होंगे जब भारत ने केरल में मछुआरों के एक अनजाने से गांव थुंबा से अमेरिका में बने दो चरणों वाले ‘नाइक-अपाचे’ साउंडिंग राकेट को छोड़कर अंतरिक्ष में पहली बार अपनी उपस्थिति दर्ज की। यह भारत का पहला राकेट था।

Read more...

‘वेबफेअर मीटअप 1.0’: वेब के जरिए ‘कमाई’ संग ‘प्रामाणिकता’ पर जोर

‘वेबफेयर मीटअप 1.0’: वेब के जरिए ‘कमाई’ संग ‘प्रामाणिकता’ पर जोरनई दिल्ली : वेब के क्षेत्र में करियर बनाने की चाह रखने वाले युवाओं को इस व्यवसाय की बारीकियों से रूबरू कराने और उनके मार्गदर्शन के लिए रविवार को सस्ताहोस्ट.कॉम की ओर से कनॉट प्लेस में ‘वेबफेयर मीटअप 1.0’ सेमिनार का आयोजन किया गया।

Read more...

उभरते वैब उद्यमियों के लिए 'वेबफेअर मीटअप 1.0' रविवार को

उभरते वैब उद्यमियों के लिए 'वैबफेयर मीटअप 1.0' रविवार कोनई दिल्ली : इंटरनेट के क्षितिज पर उभरते हुए नए उद्यमियों के लिए 'दिल्ली के दिल' कनॉट प्लेस के 'इन्नोवेट' सभागार में रविवार को 'वेबफेयर मीटअप 1.0' का आयोजन किया जा रहा है।

Read more...

परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम : 70 साल का शांतिपूर्ण सफर...

भारत ने अणु युग में और सही कहें, तो परमाणु युग में 4 अगस्‍त, 1956 में उस समय प्रवेश किया जब भारत के पहले परमाणु रिएक्‍टर ‘अप्‍सरा’ को चालू किया गया। इस रिएक्‍टर की डिजाइन और निर्माण भारत द्वारा किया गया था और इसके लिए एक समझौते के अंतर्गत ब्रिटेन ने परमाणु ईंधन की सप्‍लाई की थी। अनुसंधान उद्देश्‍यों के लिए हमारा दूसरा रिएक्‍टर साइरस कनाड़ा के सहयोग से बनाया गया और 1960 के प्रारंभ में संचालित हुआ।

Read more...

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.