Menu

 

दक्षिण एशिया उपग्रह से क्षेत्रीय संचार को मिलेगी ताकत

दक्षिण एशिया उपग्रह से क्षेत्रीय संचार को मिलेगी ताकत

भारत का सर्वप्रथम दक्षिण एशिया सेटेलाइट (एसएएस) सफलतापूर्वक लांच किए जाने से छह पड़ोसी देशों के बीच संचार प्रणाली को प्रोत्‍साहन मिलेगा और आपदा संपर्क में सुधार होगा। दक्षिण एशिया सेटेलाइट ने सहयोग का नया क्षितिज प्रदान किया है और यह अंतरिक्ष कुटनीतिक में महत्‍वपूर्ण स्‍थान बनाया है। (Read in English)

Read more...

दक्षिणी एशियाई उपग्रह के सफल प्रक्षेपण से क्षेत्र में भारत की धाक जमी

जीएसएलवी ने दक्षिणी एशियाई उपग्रह का सफल प्रक्षेपण किया

नई दिल्ली : भारत के भूसमकालिक उपग्रह प्रक्षेपण यान (जीएसएलवी-एफ09) ने 2230 किलोग्राम भार वाले दक्षिण एशियाई उपग्रह (जीसेट-9) का शुक्रवार को नियोजित भू-समकालिक हस्तांतरण कक्षा (जीटीओ) में सफल प्रक्षेपण किया। यह जीएसएलवी का 11वां प्रक्षेपण था। 

Read more...

अगले 20 साल में कहां तक जाएंगे हम...?

टेक्नोलॉजी विजन-2035

पानी की लीकेज हमारे पेयजल आपूर्ति की एक बड़ी समस्या है। काश कि पानी की पाइपलाइनें भी हमारे शरीर की नसों की तरह होतीं। जैसे हमारे शरीर में कट लगने पर निकलने वाले खून को रोकने के लिए खून खुद ही थक्का जमा लेता है, वैसे ही पाइप खुद की मरम्मत कर ले तो कितना अच्छा रहे। इसी तरह सड़क पर दरार व गड्ढे बन जाएं तो वे खुद ही उसे ठीक कर लें जैसे कोई घाव भर जाता है। आपको भूख लगी है और शरीर को जिस पोषक तत्व की जरूरत है और जैसा स्वाद आप चाहते हैं वही आपको आहार में मिले तो कितना अच्छा हो। सड़क पर जाम मिले तो कार हवा में उड़ने लगे, रास्ते में पानी भरा मिले तो तैरने लगे।

Read more...

लोगों को ऑनलाइन ‘सुरक्षा’ का अहसास दिलाने में मौजूदा नीतियां हैं नाकाम

लोगों को ऑनलाइन ‘सुरक्षा’ का अहसास दिलाने में मौजूदा नीतियां हैं नाकाम

सिंगापुर : एशिया प्रशांत में नीति से संबंधित मुद्दों पर इंटरनेट सोसाइटी सर्वेक्षण की हाल में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक ‘ऑनलाइन सुरक्षा’ एक ऐसा क्षेत्र है जिसपर नीति निर्माताओं को शीघ्र ही सबसे ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

Read more...

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.