Menu

 

ढोला-सदिया : पूर्वोत्‍तर के लिए नई आशा का पुल

ढोला-सदिया : पूर्वोत्‍तर के लिए नई आशा का पुलदेश के सबसे लम्‍बे नदी पुल ढोला-सदिया से पूर्वोत्‍तर में रोड संपर्क में एक प्रमुख बदलाव आएगा। यह पुल तीन लेन का होगा तथा 9.15 किलोमीटर लम्‍बे पुल का निर्माण ब्रह्मपुत्र की सहायक नदी लोहित पर किया गया है। अपने उद्घाटन भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका नामकरण प्रख्यात गायक भूपेन हजारिका के नाम पर किया। (Read in English: Dhola-Sadia: A Bridge Of New Hope For North-East)

Read more...

ऐसी है भारत की पहली सेमी-हाईस्पीड रेल ‘गतिमान एक्सप्रेस’

एक सौ साठ किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलने वाली भारत की पहली सेमी-हाईस्पीड रेलगाड़ी गतिमान एक्सप्रेस को झण्डी दिखाकर रवाना कर दिया गया है। यह रेलगाड़ी हजरत निजामुद्दीन और आगरा कैंट स्टेशन के बीच चलेगी। 

Read more...

दिल्ली - नैनीताल की यात्रा होगी छोटी

दिल्ली - नैनीताल की यात्रा होगी छोटीनई दिल्ली : भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) बोर्ड ने दो पैकेज में बीओटी हाईब्रिड वार्षिकी रूप से एनएच-87 के रामपुर – रुद्रपुर - काठगोदाम सेक्शन के निर्माण के लिए मंजूरी दे दी है जो उत्तर प्रदेश को उत्तराखंड से जोड़ता है। 1336 करोड़ रुपये का बोली मूल्य पर यह पैकेज सदभावना इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट लिमिटेड को दिया गया है। (Read in English: Delhi - Nainital Journey To Get Shorter)

Read more...

केरल है सहिष्‍णुता और प्रगति का मूर्तरूप

केरल की विश्‍वव्‍यापी और समेकित संस्‍कृति है। वह भारतीय संस्‍कृति का अभिन्‍न अंग है। केरल की समृद्ध सांस्‍कृतिक विरासत आर्य और द्रविड़ संस्‍कृतियों का मेल है जो भारत के अन्‍य हिस्‍सों और विदेशी प्रभावों के तहत सहस्राब्दियों में विकसित हुई है। केरल की संस्‍कृति राज्‍य की सहिष्‍णु भावना का जीता-जागता उदाहरण है। (Read in English: Kerala - An Embodiment Of Tolerance, Progress)

Read more...

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.