Menu

 


होम्‍योपैथी का लाभ लेने वाले मरीजों की संख्‍या 50 फीसदी बढ़ी

नई दिल्ली : होम्‍योपैथी चिकित्‍सा का लाभ उठाने वाले मरीजों की संख्‍या में पिछले पांच सालों के दौरान 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

Read more...

एक नई क्रांति का सूत्रपात है योग

योग ने यूं तो हमेशा से ही लोगों का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट किया है, पर पिछले तीन वर्ष के दौरान योग को लेकर आम लोगों की जागरूकता में आमूलचूल बदलाव देखने में आया है।

Read more...

हैपेटाइटिस और इसका भारत पर मकड़जाल

हैपेटाइटिस संक्रमण के कारण फैलने वाला यकृत (लिवर) संबंधी रोग है। वर्ष 2015 में इससे दुनियाभर में लगभग 13.4 लाख लोगों की मौत हो गई थी। (यह संख्‍या क्षय रोग से होने वाली मौतों के बराबर थी)। हैपेटाइटिस से होने वाली मौतों में से ज्‍यादातर का कारण पुरानी यकृत बीमारी / यकृत कैंसर का प्राथमिक स्‍वरूप रहा। (सिरोसिस के कारण होने वाली मौतें – 7,20,000 और  हैप्‍टो सेल्‍यूलर कार्सिनोमा के कारण होने वाली मौतें – 4,70,000)।  अभी भी समय के साथ हैपेटाइटिस संक्रमण से होने वाली मौतों की संख्‍या बढ़ रही हैं। (Read in English: Possibilities To Make India A Viral Hepatitis Free Nation…)

Read more...

टाइप-2 डायबिटीज पर योग से ऐसे करें कारगर नियंत्रण...

योग का आमूल विज्ञान एक बेहतरीन जीवनशैली है जिसे इस प्रकार तैयार किया गया है कि उसके द्वारा तनाव से उत्‍पन्‍न विकारों और जीवनशैली से उत्‍पन्‍न होने वाले मधुमेह जैसे विकारों को प्रभावशाली तरीके से दुरुस्‍त किया जा सकता है। आधुनिक अनुसंधानों से पता लगा है कि योग द्वारा मनोवैज्ञानिक और शारीरिक लाभ प्राप्‍त होते है। योग केवल शारीरिक कसरत नहीं है (इन्‍स और विन्‍सेंट, 2007)। (Read in English: Managing Type 2 Diabetes Through Yoga...)

Read more...

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.