Menu

 


गोदावरी एवं कृष्‍णा बेसिन में भीषण बाढ़ की आशंका

मौसम विभाग ने गोदावरी एवं कृष्‍णा बेसिन में बाढ़ आने की भविष्‍यवाणी की है। तेलंगाना, मध्‍य महाराष्‍ट्र, विदर्भ, मराठावाड़ा एवं तेलंगाना के निजामाबाद जिले में आरमूर के साथ उत्‍तरी आंतरिक कर्नाटक के कुछ स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश तथा छिटपुट स्‍थानों पर 40 सेंटीमीटर की बेहद तेज बारिश रिपोर्ट दी गई है।

नई दिल्ली : मौसम विभाग ने गोदावरी एवं कृष्‍णा बेसिन में बाढ़ आने की भविष्‍यवाणी की है। तेलंगाना, मध्‍य महाराष्‍ट्र, विदर्भ, मराठावाड़ा एवं तेलंगाना के निजामाबाद जिले में आरमूर के साथ उत्‍तरी आंतरिक कर्नाटक के कुछ स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश तथा छिटपुट स्‍थानों पर 40 सेंटीमीटर की बेहद तेज बारिश रिपोर्ट दी गई है। 

कई अन्य स्‍थानों पर 13 सेंटीमीटर से अधिक की बारिश रिपोर्ट की गई है और अगले दो दिन के दौरान गोदावरी नदी के जलग्रहण क्षेत्रों एवं मंजीरा, मनेरू, पुरना, प्रवारा, पेनगंगा जैसी इसकी सहायक नदियों में तथा कृष्‍णा एवं भीमा की इसकी सहायक नदियों के जल ग्रहण क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी बारिश की भविष्‍यवाणी की गई है, इन नदियों में जल का स्‍तर से बहुत तेजी से बढ़ रहा है।

मौसम विभाग ने गोदावरी एवं कृष्‍णा बेसिन में बाढ़ आने की भविष्‍यवाणी की है। तेलंगाना, मध्‍य महाराष्‍ट्र, विदर्भ, मराठावाड़ा एवं तेलंगाना के निजामाबाद जिले में आरमूर के साथ उत्‍तरी आंतरिक कर्नाटक के कुछ स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश तथा छिटपुट स्‍थानों पर 40 सेंटीमीटर की बेहद तेज बारिश रिपोर्ट दी गई है।

मेडक एवं निजामाबाद जिलों में मंजीरा एवं गोदावरी नदियों पर सिंगुर, निजामसागर एवं श्रीरामसागर नामक जलाशय अपनी पूर्ण क्षमता के निकट पहुंच रहे हैं और वे निचले क्षेत्रों में भारी मात्रा में पानी छोड़ सकते हैं। इससे महाराष्‍ट्र में बीड एवं लातुर जिले, कर्नाटक में बिदार, मंजीरा बेसिन में तेलंगाना में मेडक, रंगारेड्डी एवं निजामाबाद एवं महाराष्‍ट्र में परभनी तथा नांदेद जिले और इन जलाशयों के तेलंगाना ऊपरी क्षेत्र में निजामाबाद के प्रभावित होने की आशंका है। 

चूंकि अगले दो दिन तक भारी से बहुत भारी बारिश होने की आशंका है इसलिए ये सभी जलाशय महाराष्‍ट्र के योतमल एवं चंद्रपुर जिलों के पेनगंगा, वर्धा तथा तेलंगाना के आदिलाबाद के बेसिनों में पानी की भारी मात्रा छोड़ना शुरू कर देंगे। श्रीरामसागर की मुख्‍य गोदावरी डाऊनस्‍ट्रीम तथा कदम्‍मवागु नदी और प्राणहिता नदी के योगदानों के संयुक्‍त प्रवाहों से श्रीरामसागर की मुख्‍य गोदावरी डाऊनस्‍ट्रीम में अगले तीन से चार दिन में तेलंगाना के निजामाबाद, आदिलाबाद, करीमनगर जिलों में निम्‍न से मध्‍यम स्‍तर की बाढ़ की स्थिति पैदा हो सकती है जो अगले चार से छह दिन में तेलंगाना के खम्‍मम जिले तथा आंध्र प्रदेश के पूर्वी एवं पश्चिमी जिलों में विस्‍तारित हो सकती है।

इधर, श्रीसेलम बांध के कृष्‍णा बेसिन अपस्‍ट्रीम के जलाशय भी अपनी पूर्ण क्षमता के निकट पहुंच रहे हैं। महाराष्‍ट्र के शोलापुर जिले के भीमा नदी पर बना उज्‍जैनी बांध अपनी पूर्ण क्षमता के निकट पहुंच रहा है और मध्‍य महाराष्‍ट्र, उत्‍तरी आंतरिक कर्नाटक में भारी से बहुत भारी बारिश की भविष्‍यवाणी को देखते हुए इनमें से अधिकांश बांधों के पानी छोड़ने की आशंका है जिससे कर्नाटक के कालबुर्गी, यादगिर, विजयपुरा, बागलकोट, रायचूर एवं तेलंगाना के महबूबनगर और आंध्र प्रदेश के करनूल जिलों के प्रभावित होने की आशंका है। 

संबंधित राज्‍य सरकारों एवं जिला प्रशासनों को अगले तीन से सात दिन के दौरान महाराष्‍ट्र, तेलंगाना, कर्नाटक एवं आंध्र प्रदेश राज्‍यों के उपरोक्‍त सभी बेसिनों में सर्वोच्‍च स्‍तर के एहतियाती कदम उठाने की सलाह दी गई है।

Last modified onMonday, 26 September 2016 13:01
back to top

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.