Menu

 


स्वयं का सत्य मिलने पर धर्म से परिचय संभव

स्वयं का सत्य मिलने पर धर्म से परिचय संभवधर्म के विस्तार एवं विविधता की खोज अनावश्यक है। यदि कुछ आवश्यक है तो वह है धर्म के तत्व की खोज, इसकी अनेकता में एकता की खोज और इसके परम सार की खोज।

Read more...

अहिंसा ही है जीवन का मुख्य आधार

अहिंसा ही है जीवन का मुख्य आधारअहिंसा जीवन की आधार भूमि है। अहिंसा के अभाव में त्राहि-त्राहि है और अहिंसा के सद्भाव में ही त्राण है। वस्तुत: व्यक्ति, परिवार, समाज, देश और राष्ट्र इसके अभाव में टिक ही नहीं सकते। इसलिए, सभी धर्मों ने इसे एक स्वर से स्वीकार किया है।

Read more...

प्रदर्शनकारी कलाओं में महिलाओं के मुद्दों पर सम्मेलन, स्त्रियों की भूमिका पर हुआ मंथन

प्रदर्शनकारी कलाओं में महिलाओं की पहचान, मुद्दे एवं विवेचन विषय पर पिछले दिनों मुंबई में एक दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन का आयोजन मणिबेन नानावती महिला महाविद्यालय के महिला अध्ययन केंद्र एवं हिंदी विभाग तथा भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद के संयुक्त तत्वाधान में किया गया था।

Read more...

हर बार से ज्यादा भव्य है इस बार का कुंभ मेला

 हर बार से ज्यादा भव्य है इस बार का कुंभ मेलागंगा, यमुना और पौराणिक सरस्वती नदियों के संगम पर मकर संक्रांति के पहले स्नान पर्व पर संगम में पवित्र डुबकी लगाने के लिए दुनियाभर से बड़ी संख्या में साधु-संत, श्रद्धालु और पर्यटक प्रयागराज पहुंच रहे हैं। यहां अखाड़ों का पहला शाही स्नान तीर्थयात्रियों और पर्यटकों के लिए एक बड़ा आकर्षण होता है।

Read more...

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.