Menu

 


कैसे जानें कि आप सफल हैं या नहीं...?

जो कुछ भी हम करते हैं उसका एक निश्चित लक्ष्य होता है। उसके पीछे एक सोच होती है। जब भी हम अपने या दूसरों के लिए कुछ करते हैं तो इस बात का निर्धारण अहम होता है कि आपके कार्य का क्या महत्व है, क्या प्राप्त होगा और किस कीमत पर प्राप्त होगा?

Read more...

झूठी प्रशंसा से बचने में ही भलाई...

हमें हमेशा नया विवेक एवं योग्यता सीखने का प्रयास करना चाहिए। ये गुण हमेशा हमारे साथ रहेगा और ये कोई हमसे ले नहीं सकता। वास्तव में चुनौतीपूर्ण स्थितियां एवं परिस्थितियां आएंगी और आपकी योग्यता सारी परेशानियों को सुलझाने के लिए अपर्याप्त हो सकती है। लेकिन, ये हमें अच्छी शुरुआत करने के योग्य बना सकता है।

Read more...

बदलाव को ग्रहण करें, मिलेगी कामयाबी...

यदि हम किसी कार्य को प्रतिदिन उसी समय करने का क्रम बनाते हैं तो यह हमें यांत्रिक स्तर पर पहुंचा देगा। इसलिए हमें समय बदलकर अपना कार्य करना चाहिए। मैं अपने रूटीन के प्रति सरल हूं, नहीं तो मेरी तबीयत खराब हो जाए या मैं बिस्तर पर पड़ जाऊं।

Read more...

कुछ लीजिए तो चुकाइए भी

हम ऐसे बहुत-से लोगों को जानते हैं जो यह शिकायत करते हैं कि हमने विपरीत परिस्थितियों में लोगों की मदद की है, लेकिन हम खुद लोगों का शिकार हो गए। कारण भले ही जो रहे हों, पर हमें इस पर विचार करना चाहिए कि क्या वाकई में ऐसा हुआ है या फिर हम ऐसी सोच रखते हैं।

Read more...

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.