Menu

 


आशुतोष पेडनेकर ने रैकेटलॉन में रचा इतिहास

आशुतोष पेडनेकर ने रैकेटलॉन में रचा इतिहासनई दिल्ली : खेल में एक व्यक्ति के जुनून और धुन से भारत की पहचान बनी है। भारतीय नौ सेना के सीडीआर आशुतोष पेडनेकर ने उस समय इतिहास रचा जब वह रैकेटलॉन खेल में भारतीय के रूप में पहली बार शामिल हुए और अंतर्राष्ट्रीय टूनार्मेंट में विजय हासिल की।

डेनमार्क और बेल्जियम में हाल में हुई स्पर्धा में सीडीआर आशुतोष पेडनेकर ने देश को गौरव और सम्मान दिलाया। उन्होंने बेल्जियम के आडेनार्डे में 3-5 जून को आयोजित सुपर वर्ल्ड टूर-किंग ऑफ रैकेट्स टूर्नामेंट में 45 प्लस में स्वर्ण पदक तथा मेन्स एमेच्योर श्रेणी में रजत पदक जीतकर देश का सम्मान बढ़ाया। 

इससे पहले, उन्होंने डेनमार्क के वेजेन में 28-29 मई को हुई मेन्स एमेच्योर तथा वेटेरन्स (45 प्लस) श्रेणी स्पर्धा में उन्होंने स्वर्ण पदक प्राप्त किया।  

यद्यपि यह खेल भारत के लिए बिल्कुल नया है लेकिन इसे भारत में जाना जाने लगा है। भारतीय नौ सेना के इस अधिकारी ने अब अपना ध्यान इस वर्ष नवंबर में जर्मनी में होने वाली विश्व रैकेटलॉन प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने पर लगा दिया है।

Last modified onFriday, 17 June 2016 13:48
back to top

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.