Menu

 

संसद के ऐतिहासिक मध्‍यरात्रि सत्र के बीच जीएसटी की शुरुआत

संसद के ऐतिहासिक मध्‍यरात्रि सत्र के बीच भारत में जीएसटी की शुरुआतनई दिल्ली : संसद के केंद्रीय कक्ष में आयोजित ऐतिहासिक मध्‍यरात्रि सत्र के बीच वस्‍तु एवं सेवा कर व्‍यवस्‍था लागू हो गई। बटन दबाकर देश में जीएसटी की शुरुआत करने से पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सभा को संबोधित किया।

Read more...

दुग्ध उत्पादन में देश पहले स्थान पर पहुंचा

दुग्ध उत्पादन में देश पहले स्थान पर पहुंचानई दिल्ली : भारत दुग्ध उत्पादक देशों में अब प्रथम स्थान पर काबिज हो गया है। वर्ष 2015-16 में दुग्ध उत्पादन की वृद्धि दर 6.28 प्रतिशत रही है जिससे कुल उत्पादन 156 मिलियन टन तक पहुंच गया है। इससे भारत में प्रति व्यक्ति दूध की उपलब्धता औसतन 337 ग्राम प्रतिदिन हो गई है जबकि विश्व स्तर पर यह औसतन 229 ग्राम ही है।

Read more...

जीएसटी से कई वस्‍तुओं पर कर बोझ होगा कम

जीएसटी से कई वस्‍तुओं पर कर बोझ होगा कमनई दिल्ली : वस्‍तु और सेवा कर (जीएसटी) लागू होने से सीमेंट के पैकेट, दवाईयों, स्मार्ट फोन और सर्जिकल उपकरणों जैसी विभिन्‍न वस्‍तुओं पर कर दर घटने से उपभोक्‍ताओं को लाभ होगा।

Read more...

गांधी का सहकार सपना साध सकता है उद्यमिता का ध्येय

गांधी का सहकार सपना साध सकता है उद्यमिता का ध्येय

यह महात्मा गांधी के चम्पारण सत्याग्रह का शताब्दी वर्ष है। सूदूर चम्पारण में निल्हे कोठी के किसानों को अंग्रेजों ने व्यापार की सफलता के लिए दास बना रखा था। अप्रैल 1917 में गांधी ने मोतिहारी पहुंचकर किसानों की दासता से मुक्ति का बिगुल फूंका। उसकी धमक से अपराजेय अंग्रेजों की सल्तनत हिल गई। आखिरकार चम्पारण सत्याग्रह के 30 वर्ष बाद अग्रेजों को बोरिया बिस्तर बांधकर जाने को विवश होना पड़ा। 

Read more...

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.