Menu

 


महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर मल्टीमीडिया प्रदर्शनी का शुभारंभ

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर मल्टीमीडिया प्रदर्शनी का शुभारंभनई दिल्ली : महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर आउटरिच कम्युनिकेशन ब्यूरो के तत्वावधान में मल्टीमीडिया प्रदर्शनी आयोजित की गई है। 

Read more...

साल दर साल और प्रासंगिक हो रहे हैं महात्मा गांधी...

30 जनवरी, 1948 को महात्मा गांधी जब दैनिक प्रार्थना के लिए जा रहे थे तब वह गोली लगने से शहीद हो गए। वह भौतिक रूप से हमें छोड़ गए लेकिन उनकी शिक्षा, उनके निजी जीवन के तमाम प्रयोग, राजनीति और दर्शन आज भी भारत के और दूसरे देशों के लोगों के मस्तिष्क में ताजा हैं।

30 जनवरी, 1948 को महात्मा गांधी जब दैनिक प्रार्थना के लिए जा रहे थे तब वह गोली लगने से शहीद हो गए। वह भौतिक रूप से हमें छोड़ गए लेकिन उनकी शिक्षा, उनके निजी जीवन के तमाम प्रयोग, राजनीति और दर्शन आज भी भारत के और दूसरे देशों के लोगों के मस्तिष्क में ताजा हैं।

Read more...

मानवता के दो आध्यात्मिक गुरुओं के बीच पत्र व्यवहार को रेखांकित करती एक रूसी फिल्म

“Leo Tolstoy and Mahatma Gandhi: A Double Portrait in the Interior of the Age”रूसी फिल्म ‘लिओ टाल्स्टॉय एंड महात्मा गांधीः ए डबल पोर्ट्रेट इन द इंटीरियर आफ द एज’ में इतिहास के दो गुमनाम अध्यायों को रेखांकित करते हुए विश्व के दो आध्यात्मिक गुरुओं के बीच संबंध को प्रदर्शित किया गया है। 

Read more...
Subscribe to this RSS feed

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.