Menu

 


11 छात्र-छात्राओं को ब्रिटिश टेलीकाम कम्पनी में मिली नौकरी

आरएटीएम के 11 छात्र-छात्राएं जिन्होंने ब्रिटिश टेलीकाॅम कंपनी में चयन किया 

मथुरा। राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट के प्रबन्ध शिक्षा के 11 छात्र-छात्राओं ने ब्रिटिश टेलीकाम कम्पनी के चयन में अभूतपूर्व सफलता हासिल कर संस्थान को गौरवान्वित किया है। जिन छात्र-छात्राओं को ब्रिटिश टेलीकाम कम्पनी में सेवा का अवसर मिला है उनमें निधि चैहान, प्रियंका कुलश्रेष्ठ, किशन लाल, वैष्णवी, चिराग भाटिया, अमित कुमार, अभिषेक सिंह, विवेक कुमार, शुभम अग्रवाल, रोहित शर्मा एवं प्राची चतुर्वेदी शामिल हैं। ब्रिटिश टेलीकाम कम्पनी का जहां तक सवाल है, इसकी स्थापना 1980 में हुई थी। 1984 में यह कम्पनी निजीकरण के रूप में सामने आयी। यह कम्पनी 170 देशों में दूरसंचार प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अपनी बेहतर सेवाओं के लिए जानी जाती है। इसका मुख्य कार्यालय लंदन एवं यूनाइटेड किंगडम में स्थित है। इसके उत्पाद फिक्स्ड लाइन टेलीफोनी, मोबाइल टेलीफोनी, ब्राडबैण्ड इण्टरनेट, फाइबर आप्टिक सम्प्रेषण, डिजिटल दूरदर्शन आदि दूरसंचार के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभा रहे हैं। आर.के. एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि दूरसंचार प्रौद्योगिकी भी संचार प्रौद्योगिकी का ही एक अभिन्न अंग है, जिसके द्वारा सम्पूर्ण विश्व की सूचनाएं हमें कम समय में ही प्राप्त हो जाती हैं। टेलीटेक्स्ट, टेलीकान्फ्रेंस, माॅडम, लेजर, डेटा सेवा, ई-मेल एवं इण्टरनेट ने दूरसंचार के क्षेत्र में अभूतपूर्व क्रांति कर विकास के नये आयाम स्थापित किये हैं। एम.डी. मनोज अग्रवाल ने कहा कि दूरसंचार प्रौद्योगिकी आज के वैज्ञानिकों की ऊर्जा एवं शक्ति की स्रोत श्रृंखला है, जो सूचना सम्प्रेषणों के उत्पादनों को प्रभावी बनाने में अपना अभूतपूर्व योगदान देती है। संस्था के निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना ने भी छात्र-छात्राओं को बधाई और शुभकामना दी। डा. विकास जैन ने कम्पनी से आये प्रतिनिधियों का आभार माना।

back to top

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.