Menu

 

English Edition

ताजमहल और यमुना को बचाने के लिए कई परियोजनाओं को मंजूरी

ताजमहल और यमुना को बचाने के लिए कई परियोजनाओं को मंजूरीराष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन की कार्यकारी समिति ने आगरा के ताजमहल सहित कई शहरों में होकर बहने वाली यमुना नदी के शुद्धीकरण के लिए 1573.28 करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाली 10 परियोजनाओं को मंजूरी दे दी है।

Read more...

रेत में स्नान कर यमुना मैया की दुर्दशा पर जताया रोष

रेत में स्नान कर यमुना मैया की दुर्दशा पर जताया रोषआगरा : बिन पानी भी भला कोई जिंदगी हो सकती है? यमुना मैया की वर्तमान स्थिति देखें तो आप जवाब देने में लड़खड़ा जाएंगे। पानी की जगह यहां नालों की कीचड़, पॉलीथिन की गंदगी और शौच करते लोग नजर आएंगे। यमुना मैया की इस दुर्दशा पर यहां लोगों ने पानी की जगह रेत में स्नान कर रोष जताया। इसके उपरान्त हर रोज की तरह आरती की गई।  

Read more...

यमुना प्राकट्योत्सव दिवस पर विशेष आरती का आयोजन

यमुना प्राकट्योत्सव दिवस पर विशेष आरती का आयोजन

आगरा : यमुना प्राकट्योत्सव दिवस पर एत्माउद्दौला व्यू पॉइंट पार्क पर विशेष यमुना आरती का आयोजन हुआ जिसमें शहर के अनेक गणमान्य लोग उपस्थित हुए और यमुना में अविरल प्रवाह की प्रार्थना की।

Read more...

यमुना नदी पर बैराज निर्माण के लिए हुआ शिला पूजन

एत्माउद्दौला व्यू पॉइंट पार्क स्थित यमुना आरती स्थल पर नदी पर बैराज के लिए शिलान्यास पूजन किया गया। यमुना भक्तों द्वारा लाई गई ईंटों का पूजन वैदिक सूत्रम के चेयरमैन पंडित प्रमोद गौतम ने कराया।

आगरा : एत्माउद्दौला व्यू पॉइंट पार्क स्थित यमुना आरतीस्थल पर नदी पर बैराज के लिए शिलान्यास पूजन किया गया। यमुना भक्तों द्वारा लाई गई ईंटों का पूजन वैदिक सूत्रम के चेयरमैन पंडित प्रमोद गौतम ने कराया। 

Read more...

जनता मांगे हिसाब, कहां गया यमुना संरक्षण के लिए आया करोड़ों रुपया...?

रिवर कनेक्ट अभियान द्वारा एत्माउद्दौला व्यू पॉइंट पार्क पर यमुना की 575वीं आरती के आयोजन के दौरान यहां जुटे एक्टिविस्ट, बुद्धिजीवी और भक्तों ने एक स्वर से मांग की कि राज्य एवं केंद्र सरकारें श्वेतपत्र जारी करके पिछले 25 वर्षों में शुद्धिकरण पर किए गए खर्चों और उनसे किए गए कार्यों का संपूर्ण विवरण जनता को दें।

आगरा : रिवर कनेक्ट अभियान द्वारा एत्माउद्दौला व्यू पॉइंट पार्क पर यमुना की 575वीं आरती के आयोजन के दौरान यहां जुटे एक्टिविस्ट, बुद्धिजीवी और भक्तों ने एक स्वर से मांग की कि राज्य एवं केंद्र सरकारें श्वेतपत्र जारी करके पिछले 25 वर्षों में शुद्धिकरण पर किए गए खर्चों और उनसे किए गए कार्यों का संपूर्ण विवरण जनता को दें।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.