Menu

 


भारतीय नौसेना की ताकत में हुआ इजाफा

भारतीय नौसेना की ताकत में हुआ इजाफा

पश्चिमी नौसेना कमान ने डीएसआरवी यानी समेकित पनडुब्बी बचाव वाहन के शुरुआती परीक्षण सफलतापूर्वक कर लिए है। इससे भारतीय नौसेना की ताकत बहुत बढ़ गई है।पश्चिमी नौसेना कमान ने डीएसआरवी यानी समेकित पनडुब्बी बचाव वाहन के शुरुआती परीक्षण सफलतापूर्वक कर लिए है। इससे भारतीय नौसेना की ताकत बहुत बढ़ गई है। यह समुद्री बचाव वाहन तीन चालक दल द्वारा संचालित किया जाता है और वह निष्क्रिय पनडुब्बी से एक बार में 14 कर्मियों को बचाने में पूरी तरह सक्षम है।

परीक्षणों के दौरान डीएसआरवी ने 666 मीटर गहराई तक गोता लगाने में कामयाबी हासिल की। भारतीय समुद्र में किसी मानवचालित वाहन ने पहली बार इतनी गहराई तक पहुंचने का यह कारनामा कर दिखाया है। पनडुब्बी बचाव वाहन के चालक दल ने 650 मीटर से अधिक की गहराई तक साइड स्कैन सोनार ऑपरेशन भी किए।

Read in English: Indian Navy augments submarine rescue capability

चालू परीक्षणों में वायु यातायात प्रणाली को भी शामिल किया जाएगा जो भारतीय वायु सेना के भारी वजन वाले यातायात हवाई जहाजों द्वारा चलाई जाती है। परीक्षणों के पूरा हो जाने के बाद भारतीय नौसेना विश्व की नौसेनाओं के उस छोटे समूह में शामिल हो जाएगी जिनके पास समेकित पनडुब्बी बचाव क्षमता मौजूद है।

Last modified onFriday, 19 October 2018 14:52
back to top

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.