Menu

 


अब पॉक्सो ई-बाक्स में दर्ज किए जा सकते हैं बाल साइबर अपराध मामले

अब पॉक्सो ई-बाक्स में दर्ज किए जा सकते हैं बाल साइबर अपराध मामलेनई दिल्ली : साइबर अपराध के शिकार बच्चे अब अपनी शिकायत राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) के पॉक्सो ई-बाक्स में दर्ज करा सकते हैं।

बच्चों के साथ साइबर अपराध में वृद्धि को देखते हुए एनसीपीसीआर ने अब पोक्सो के दायरे को बढ़ा दिया है ताकि साइबर धमकी, साइबर तरीके से पीछा करना, चित्रों की मॉर्फिंग और बाल अश्लील साहित्य आदि की समस्या से निपटा जा सके।

साइबर अपराध के शिकार बच्चे स्वयं या उनके मित्र, माता-पिता, संबंधी या अभिभावक आयोग की वेबसाइट www.ncpcr.gov.in पर उपलब्ध ई-बाक्स बटन को दबाकर शिकायत दर्ज कर सकते हैं। वे अपनी शिकायतें ईमेल This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. या मोबाइल नम्बर 9868235077 पर भी दर्ज करा सकते हैं।

मोबाइल और डिजिटल टेक्नोलाजी के माध्यम से बाल शोषण नया रूप और चैनल का रूप ले रहा है। भारत में लगभग 134 मिलियन बच्चों के पास मोबाइल फोन है और यह संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। सीखने के उद्देश्य से उपयोगी सामग्री तो मिलती है लेकिन डिजिटल साक्षरता के अभाव और ऑनलाइन सुरक्षा उपायों की अज्ञानता से बच्चों को साइबर अपराध के खतरों की ओर जाने की संभावना है।

पॉक्सो ई-बाक्स बाल यौन अपराध संरक्षण अधिनियम 2012 के अंतर्गत बच्चों के यौन शोषण की शिकायत दर्ज कराने का सहज और सीधा माध्यम है।

एनसीपीसीआर द्वारा विकसित पॉक्सो ई-बाक्स पिछले वर्ष महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने लॉन्च किया था।

Last modified onFriday, 23 June 2017 21:12
back to top

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.